Zulmi Yaadein Shayari

yaadein shayari
zulmi yaadein shayari

💕अजीब ज़ुल्म करती हैं तेरी यादें मुझ पर “जनाब”,
सो जाऊं तो उठा देती हैं जाग जाऊं तो रुला देती हैं..✍️💔

Ajeeb Zulm Karti Hain Teri Yaadein Mujh Par “Janaab”,
So Jaaun To Utha Deti Hain, Jaag Jaaun To Rula Deti Hain….

Muskan Shayari on Alfaz

muskan shayari
muskan shayari on alfaz

तेरी मुस्कान, तेरा लहज़ा, और तेरे मासूम से अल्फाज़..
और क्या कहूँ.. बस बहुत याद आती हो तुम..!!

Teri Muskaan.. Tera Lehaza, Aur Tere Masoom Se Alfaaz..
Aur Kya Kahun.. Bas Bahut Yaad Aati Ho Tum..!!

Yaad Shayari

 Koi zaroorat nahin kisi ko yaad aau main
Koi mujhe yaad aa raha hai yahi bahut hai
कोई ज़रुरत नहीं किसी को याद आउं मैं
कोई मुझे याद आ रहा है यही बहुत है

Best Sher O Shayari Of Khushbir Singh Shaad

Main baar haa teri yaadon mein is tarah khoya 
Ke jaise koi nadi jangalon mein gum ho jaae
Khushbir Singh Shaad
 –
मैं बार-हा तेरी यादों में इस तरह खोया
कि जैसे कोई नदी जंगलों में गुम हो जाए
ख़ुशबीर सिंह शाद

Yaad Shayari

 lakhon ki hain koshishein humne tumko bhulane ki
chhodi nahin kami koi tumne bhi yaad aane ki
Unknown
लाखों की हैं कोशिशें हमने तुमको भुलाने की
छोड़ी नहीं कमी कोई तुमने भी याद आने की
अज्ञात

Hichkiyon Ko Na Bhejo Apna Mukhbir Bana Ke

hichkiyon ko na bhejo apna mukhbir bana ke
humein aur bhi kaam hain tumhein yaad karne ke siva
हिचकियों को न भेजो अपना मुखबिर बना के 
हमें और भी काम हैं तुम्हें याद करने के सिवा

Khwab Shayari / ख़्वाब शायरी

ख्वाब शायरी
Khwab Shayari
Dil mein chhipi yadon se mein sanwarun tujhe
Tu dikhe to apni aankhon mein utaru tujhe
Tere naam ko apne labon par aise sajau
Gar so bhi jaau to khwaabon mein pukaaru tujhe
दिल में छिपी यादों से मैं सवारूँ तुझे,
तू दिखे तो अपनी आँखो में उतारू तुझे,
तेरे नाम को अपने लबों पर ऐसे सजाऊ,
गर सो भी जाऊं तो ख़्वाबों में पुकारू तुझे!